पाकिस्तानी मूल का आस्ट्रियाई नागरिक अहसान उल हक पुत्र शाह मोहम्मद गिरफ्तार, पहचान छिपाकर बना रहा था मकान

जालंधर। स्पेशल ऑपरेशन यूनिट और पंजाब पुलिस ने संयुक्त अभियान चलाकर पाकिस्तानी मूल के आस्ट्रियाई नागरिक अहसान उल हक पुत्र शाह मोहम्मद को जालंधर कैंट के पास स्थित अलीपुर से गिरफ्तार किया है। आरोपी यहा फर्जी दस्तावेज के आधार पर तीन मरला जमीन खरीदकर उस पर मकान बनाकर रह रहा था। आरोपी ने नवांशहर के मुकंदपुर कस्बा निवासी बलविंदर कौर नाम की लड़की के साथ शादी की थी और उसी के साथ रह रहा था।
अहसान ने सन 2010 में मुकुंदपुर निवासी बलविंदर कौर के साथ शादी की थी। इन सात साल में वह पांच बार भारत आ चुका है। अहसान ने महिला से आस्ट्रियाई निवासी बताकर शादी रचाई और उसने यहां अहसान उल हक के नाम से ही आधार कार्ड और पैन कार्ड बनवाया था।
इस संबंध में डीसीपी गुरमीत सिंह ने बताया कि अहसान से पूछताछ जारी है। जिसके बाद यह भी पता चल पाएगा कि कहीं वह पाकिस्तानी जासूस तो नहीं है। पुलिस ने बलविंदर कौर के खिलाफ क्या कार्रवाई की है। इस बारे फिलहाल पता नहीं चला है।
पाकिस्तान स्थित ऐतिहासिक शहर ननकाना साहिब के निकट गांव सेहजा में दो अगस्त 1964 में जन्मे अहसान के पास दोहरी नागरिकता है। भारत-पाक बंटवारे से पहले अहसान का परिवार फगवाड़ा के रानीपुर में रहता था। विभाजन के बाद अहसान का परिवार ननकाना साहिब बस गया था।
बीकॉम पास अहसान पहले सऊदी अरब गया था। 2006 में अकाउंटेंट बनने के लिए ऑस्ट्रिया गया। वहां कारपेंटर का काम करने लगा। आस्ट्रिया की पक्की नागरिकता लेने के लिए उसने अपने से बड़ी उम्र की शादीशुदा महिला से शादी रचाई। 2009 में तलाक लेकर पाकिस्तान वापस आ गया। पाकिस्तान में दोहरी नागरिकता को मंजूरी देने का प्रावधान था। ऐसे में अहसान दोनों देशों का नागरिक बन गया।
अहसान उल हक ने अपना जो आधार कार्ड और पैन कार्ड बनवाया था उस पर उसका नाम तो असली है लेकिन नागरिकता भारतीय और पता पंजाब के जालंधर जिले के अलीपुर का है। पता चला है कि आधार और पैन कार्ड बनाने के लिए जितने भी दस्तावेज जिनमें स्कूल सर्टिफिकेट, राशन कार्ड की कॉपी शामिल है, सब जाली थे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *